जानिए मेथी की भाजी के अदभुद फा़यदे - Methi Khane Ke Fayde

 

Methi khane ke fayde
Methi (Fenugreek) 


सर्दियों का मौसम आते ही बाजार में हरी पत्तेदार सब्जियों का आना बढ़ जाता है यह हरी पत्तेदार सब्जियां स्वास्थ्यवर्धक होती है साथ में रोग निरोधक भी होती है क्योंकि इन में पोषक तत्वों की भरमार होती है

इसको भी पढ़े - चना खाने के 15 चमत्कारी फायदे

हरी पत्तेदार सब्जियों में मेथी की भाजी को ही लीजिए यह खाने में स्वादिष्ट स्वास्थ्यवर्धक है और अक्सर लोग उसको खाना पसंद करते हैं पर बहुत कम लोग मेथी के खाने के फायदे (Methi khane ke fayde) जानते होंगे

मेथी की भाजी में काफी मात्रा में औषधीय गुण मौजूद होते हैं और इसको कई तरह के रोगों के उपचार में भी उपयोग कर सकते हैं मेथी की भाजी के कई तरह के व्यंजन बनाए जा सकते हैं और इसका उपयोग करके व्यंजनों के स्वाद को बढ़ाया भी जा सकता है

इसको भी पढ़ेमटर के 10 कमाल करने वाले फायदे

इस लेख में हम विस्तार से आपको मेथी के फायदे (Methi ke fayde) इसके उपयोग और इससे होने वाले कुछ नुकसान के बारे में भी बताएंगे सबसे पहले हम जानते हैं कि मेथी क्या है


विषय सूची - TABLE OF CONTENTS

• मेथी क्या है  - what is Fenugreek in Hindi

• मेथी का अन्य भाषाओं में नाम  - Methi Ke Naam

• मेथी के फायदे - Methi Ke Fayde

• मेथी के उपयोग - Methi Ka Upyog

• मेथी के नुकसान - Side Effects of Fenugreek in Hindi

• मेथी का हेयर कंडीशनर बनाने की विधि - Methi Ka Hair Conditioner Banane ka Tarika


मेथी क्या है - What Is Fenugreek  In Hindi

भारत में उगाए जाने वाले और उपयोग किए जाने वाले हरी पत्तेदार सब्जियों में मेथी (Methi)को मुख्य स्थान दिया जाता है आमतौर पर इसके पत्तों को सब्जी बनाने के लिए और बीजों को मसाले के रूप में से इस्तेमाल किया जाता है

मेथी का पौधा बहुत छोटा होता है जिसकी लंबाई 1 फिट से लेकर 2 फुट तक होती है इसके पत्ते गोल, हरे और छोटे छोटे होते हैं इसके फूल छोटे सफेद होते हैं जिसमें फलियां लगी रहती है इन फलियों में छोटे-छोटे भूरे रंग के बीच होते हैं जिनको मेथीदाना कहते हैं

मेथी की तासीर शुष्क और गर्म होती है यह स्वाद में तीखी, पचने में हल्की और उष्ण होती है यह पित्तवर्धक होती है इसलिए गर्म तासीर वालों को इसका सेवन बहुत कम मात्रा में करना चाहिए

मेथी के पत्तों की तासीर गर्म होने की वजह से गर्मी में इसका उपयोग कम करना चाहिए और सर्दी में इसका उपयोग करना बहुत फा़यदेमंद (Methi khane ke fayde) होता है इस लेख को आगे पढ़ते रहिए इसमें हम आपको मेथी के फायदे (Benefits of fenugreek) और उसको किस तरह से उपयोग किया जा सकता है बताएंगे


मेथी का अन्य भाषाओं में नाम - Methi Ke Naam

          हिन्दी       -     मेथी

          संस्कृत     -    मेडिकल

          मराठी      -     मेथी

          तेलुगु       -     मेंतुलु

          कन्नड़      -     मेथयक

          बंगाली     -     मेथी

          तमिल      -     वेंडयम

         मलयालम  -     वेन्तियम

         पंजाबी     -     मेथी

         फारसी     -     शमलिह

         गुजराती    -     मेथी



Methi khane ke fayde
Methi (Fenugreek) 


मेथी के फा़यदे - Methi Ke Fayde

1. कब्ज़ ठीक करे

पेट की आंतों की कमजोर होने से कब्ज़ बना रहता है मेथी के पत्ते की भाजी बनाकर खाने से लीवर को शक्ति मिलती है जिससेे कब्ज को दूर करने में सहायता मिलती है
कब्ज होने पर मेथी की सब्जी़ (Methi ke sabji khane ke fayde) बना कर खाएं या दूसरी सब्जियों में मेथी की भाजी मिला कर खाने से बहुत जल्दी लाभ मिल जाता है मेथी की रेशे वाली सब्जी रोज खाने से कब्ज टूट जाता है और मल आसानी से होने लगता है


2. सर्दी जुकाम ठीक करें

जिन लोगों को बहुत जल्दी सर्दी हो जाती है या अक्सर सर्दी जुकाम रहता है उन्हें मेथी की सब्जी का ज्यादा से ज्यादा सेवन करना फायदेमंद होता है क्योंकि यह पोष्टिक होती है कमजोरी को दूर करके नजला जुकाम ठीक करती हैं
मेथी की भाजी को तिल या सरसों के तेल में सब्जी बनाकर प्रतिदिन सेवन  करने से सर्दी जु़काम बहुत जल्दी दूर हो जाती है

3. पेशाब की समस्या दूर करे

बार-बार पेशाब आता हो पेशाब में जलन होती हो ऐसे रोगियों को रोजाना मेथी का साग खिलाना चाहिए इससे पेशाब आने की समस्या से छुटकारा मिल जाता है और जलन भी दूर हो जाती है
हरी पत्तेदार मेथी के रस में 3 ग्राम मिश्री 11/2 ग्राम कत्था मिलाकर 1 हफ्ते तक रोजाना रोगी को पिलाएं इससे बार-बार पेशाब की समस्या से छुटकारा मिलेगा

4. वायु दर्द ठीक कर

जिन लोगों का हाजमा सही नहीं होता और पेट में वायु बनती है और इससे शरीर में कहीं दर्द होता है उन लोगों को मेथी की भाजी खाना बहुत फायदेमंद है
हरी पत्तेदार मेथी की सब्जी बनाकर नियमित खाने से वायु का दर्द ठीक हो जाता है और वायु बनना भी कम हो जाता है मेथी के लड्डू खाने से भी वायु दर्द में लाभ मिलता है


5. एसिडिटी ठीक करे

हाज़मा खराब होने से एसिडिटी की समस्या उत्पन्न होती है जिससे सीने में जलन, डकार और पेट में जलन भी महसूस होती है ऐसे लोगों को मेथी की भाजी उपयोग करना चाहिए
मेथी के ताजा पत्तों का 100 ग्राम रस निकालकर उसमें उतनी ही मात्रा में पानी मिलाकर रोगी को पिलाने से एसिडिटी में बहुत जल्दी जबरदस्त लाभ मिलता है

6. लू में फा़यदेमंद

गर्मी के मौसम में बाहर रहकर काम करने वालों को अक्सर लू लग जाती है इस लू से छुटकारा पाने के लिए आप मेथी के पत्तों का उपयोग कर सकते हैं फा़यदा मिलेगा
मेथी के सूखे पत्तों को एक गिलास पानी में भिगोकर  रखते हैं फिर 3 से 4 घंटे बाद इनको मसलकर छान लीजिए फिर उसमें शहद मिलाकर रोगी को पिलाएं इससे लू का असर बहुत जल्दी दूर हो जाता है 


7. फरास को खत्म करे

जिनकी त्वचा रूखी होती है या वह अपने बालों का ध्यान नहीं रखते बालों में फरास हो जाती है बालों के लिए बहुत नुकसानदायक होती है इसके लिए आप मेथी के पत्तों का उपयोग करें फायदा मिलेगा 
मेथी के ताजा हरे पत्तों में थोड़ा सा पानी डालकर इनको पीस लें और इसको सर के बालों की जड़ों में अच्छी तरह से लगाए और आधे से पौन घंटे बाद उसको धो लें इससे सिर की फरार दूर हो जाएगी और बाल काले , मुलायम और स्वास्थ्य होंगे

8. बाल झड़ना रोके

बाल असमय पकने लगे, दो मुहे हो जाएं या झड़ने लगे तो इस समस्या से छुटकारा पाने के लिए मेथी के पत्ते (Benefits of fenugreek leaves) का उपयोग बहुत मददगार साबित हो सकते हैं
मेथी के पत्तों की सब्जी बनाकर नियमित इस्तेमाल करें साथ ही मेथी की ताजा पत्तों को पीसकर लेप बनाए इसको अपने बालों की जड़ों में लगाएं इससे बालों का रूखापन दूर होगा बाल झड़ना बंद होंगे साथ ही बाल काले और स्वस्थ होंगे

9.  चहरे की झुर्रियां दूर करें

50 साल की उम्र के बाद ओइस्ट्रोजन हार्मोन बनना कम हो जाता है जिसकी वजह से त्वचा ढी़ली पढ़ना शुरू हो जाती है और त्वचा में झुर्रियां बनने लगती है  इसके लिए मेथी की भाजी का नियमित सेवन करना चाहिए
नहाने से आधा घंटा पहले मेथी के पत्तों को पीसकर उसका पेस्ट बना लें फिर उसको अपने चेहरे पर अच्छी तरह लेप करें और आधे घंटे बाद नहा लें इससे चेहरे की तवचा का रूखापन दूर होगा धीरे-धीरे झुर्रियां भी दूर होने लगेंगी और चहरा चमकदार होगा


10. कील मुहांसे दूर करे

जवानी के उम्र में अक्सर लड़के लड़कियों के चेहरे पर कील मुंहसे हो जाते हैं जिसका इलाज करने के बाद भी फायदा नहीं मिलता इसके लिए मेथी के पत्तों (Benefits of methi leaves) को चेहरे पर लगाएं और मेथी की भाजी का खाने में उपयोग करें
मेथी की ताजा हरी पत्तियों की चटनी बनाकर रात को सोने से पहले अपने चेहरे के कील मुहांसों लगा कर सो जाएं सुबह इसको धो लें इससे कुछ दिनों में चेहरे का रूखापन और कील मुंहासे दूर होंगे चेहरा साफ और चमकदार हो जाएगा

11. जले पर लगाना फायदेमंद

आग से हाथ पैर या शरीर का कोई अंग चल जाए तो उस पर मेथी के पत्तों को पानी में पीसकर उसका पेस्ट बनाकर जली हुई जगह पर लगाएं इससे जलन दूर होगी फोड़े नहीं बनेंगे और तवचा भी जल्दी ठीक हो जाएगी
मेथी की हरी पत्तियों को पीसकर लगाने से जली हुई तवचा की जलन तो दूर होती है अगर मोच या सूजन हो तो उसमें भी जल्दी आराम मिल जाता है

12. स्तन सौंदर्य बढ़ाएं

मेथी की पत्तों की सब्जी़ का नियमित सेवन करने और  मेथी के पत्तों में थोड़ा सा पानी मिलाकर इस को पीसकर पेस्ट बना लें इस पेस्ट की स्तनो पर मालिश करने से स्तनों के उभार बढ़ने लगते हैं और अल्प विकसित स्तन मोटे और आकर्षक हो जाते हैं
मेथी के पत्तों में डायस्जेनिक  हार्मोन होता है जो महिलाओं के स्तनों के टिशयूज़ की उत्पत्ति को विकसित करने का काम करता है मेथी के पत्ते इस आवश्यक हार्मोन की पूर्ति करते हैं जिससे स्तन सौंदर्य बढ़ता है

13. मोटापा दूर करे

मोटापा से ग्रस्त लोग मोटापा दूर करने के लिए बहुत सारे उपाय करते हैं डाइट प्लान बनाते हैं, एक्सरसाइज करते हैं इसके लिए सबसे अच्छा उपाय में से एक मेथी की भाजी का नियमित उपयोग करना भी है
मेथी के पत्तों की सब्जी़ का नियमित सेवन करने से छाती चौड़ी होती है पेट पतला होता है शरीर सुडौल बनता है और मोटापा नहीं बढ़ता और शरीर की  कमजोरी भी दूर होती है

14. भूख बढ़ाए

भूख नहीं लगती या खाना कम खाया जाता है कई बार स्वस्थ व्यक्ति को भी खाने में रुचि नहीं होती और खाना खाने का मन नहीं करता ऐसी स्थिति में मेथी खानें की आदत डालें इससे भूख बड़ेगी और भूख लगेगी
रोजाना अपने खाने में मेथी की भाजी , मेथी का साग, मेथी का सलाद या मेथी की रोटी का उपयोग करें यह खाने के स्वाद को बढ़ाकर खाने में रूचि पेदा करता जिससे भूख बढ़ती है खाना अच्छा खाया जाता है 

15. तेज़ बुखार में फा़यदेमंद

बुखार हो जाने पर मेथी की हरी पत्तियों की ताजा सब्जी बनाकर खाने से बुखार में जल्दी आराम मिल जाता है और शरीर का तापमान भी धीरे धीरे नारमल हो जाता है
अगर बुखार बहुत तेज हो तो दो कप पानी में थोड़े से मेथी के पत्ते डालकर उबालें (Methi pani ke fayde) जब पानी आधा रह जाए तो उसको छानकर रोगी को दिन में तीन बार पिलाएं तेज बुखार भी उतर जाएगा और शरीर का तापमान भी नॉर्मल हो जाएगा



Methi khane ke fayde
Methi (Fenugreek) 



मेथी के उपयोग - Methi Ka Upyog 


मेथी के पत्तों का उपयोग करके कई तरह से हम इसके फायदे (Methi leaves benefits) हासिल कर सकते हैं आइए जानते हैं मेथी के पत्तों को उनके साथियों कर सकते हैं
• मेथी के हरे पत्तों की सब्जी बनाकर उपयोग किया जा सकता है
• मेथी के पत्तों को नॉनवेज के साथ मिलाकर भी उपयोग किया जा सकता है
• मेथी के पत्तों को सुखाकर दवा के तौर पर इस्तेमाल किया जा सकता है
• मेथी के पराठे बना कर हम उपयोग कर सकते हैं
• मेथी के हरे पत्तों का पुलाव बना कर भी हम उपयोग कर सकते हैं
• मेथी के पत्तों को सादे चावल के साथ बनाकर भी उपयोग कर सकते हैं


मेथी के नुक़सान - Side Effects of Fenugreek leaves in Hindi


मेथी की भाजी के फायदे तो बहुत सारे हैं पर इसके नुकसान भी है (Methi ke fayde aur nuksan) आइए हम आपको बताते हैं वह क्या

• मेथी की तासीर गर्म होती है इसलिए गर्म तासीर वालों को इसका सेवन ज्यादा करना नुकसानदायक हो सकता है
• मेथी के पत्तों का ज्यादा सेवन पिक्चर को बढ़ाता है इसलिए उचित मात्रा में ही सेवन करें
• मेथी की भाजी से कुछ लोगों को ऐसी भी हो जाती है इसलिए ऐसे लोग आवश्यकता अनुसार ही इसका सेवन करें
• मेथी के पत्तों का स्वाद कड़वा होता है इसलिए कच्ची खानें से मतली या उलटी की समस्या भी उत्पन्न हो सकती है
• मेथी के पत्तों को अच्छी तरह पानी से धोकर या उबालकर ही इस्तेमाल करना चाहिए अन्यथा नुकसान हो सकता है

मेथी का हियर कंडीशनर बनाने की विधि - Methi Ka Hair Conditioner Banane Ka Tarika

मेथी के पत्तों से बनाया गया हेयर कंडीशनर एक प्राकृतिक हेयर कंडीशनर है जो आपके बालों को स्वस्थ बनाएगा और बालों में होने वाले रोगों को भी दूर करेगा आइए जानते हैं यह कैसे बनाया जाता है

सामाग्री 

• मेथी की ताज़ा पत्तियाँ लगभग 80 ग्राम

• एक छोटा कटोरा 

• आवश्यकतानुसार पानी 

• दही लगभग 40 ग्राम

बनानें की विधि

एक छोटी कटोरी में आवश्यकतानुसार साफ पानी लीजिए फिर इसमें मेथी के पत्ते डालें और रात भर पत्तो को पानी मे डला छोड़ दें सुबह मेथी के पत्तों को कटोरे में से निकाल कर बिना पानी के अच्छी तरह से पीस लें अब इन पिसे हुए पत्तों में दही मिक्स करें यह आपका पेस्ट यानी प्राकृतिक हेयर कंडीशनर तैयार हो गया इसको बालो में लगाने से कुछ दिनों में आपके बाल काले, घने, मुलायम हो जाएंगे और फरास भी निकल जाएगी



निष्कर्ष - Conclusion 

इस लेख में आपने मेथी के बारे में पढ़ा और जाना के मेथी में कितने औषधि गुण मौजूद है और यह हमारे स्वास्थ्य के लिए कितना ज्यादा फायदेमंद है अब मेथी की भाजी को अपने खाने में उपयोग करें और इसके फायदों से अपने स्वास्थ्य को बेहतर बनाकर रोगों से अपने आप को बचाएं याद रखें किसी रोग के इलाज के लिए जब इसका उपयोग करें तो अपने चिकित्सक से परामर्श भी करें अगर आपको हमारा लेख अच्छा लगा हो तो इसको अपने दोस्तों से शेयर करें


TAGS

# Methi Ke Fayde

# Methi Khane Ke Faye

# Methi Leaves Benefits

# Benefits Of Fenugreek

# Methi Ka Upyog

# Methi Ke Nuksan


HealthZone3.com

Syed Zafar Iqbal is the founder, developer, and author of HealthZone3.com . What began as a grad school hobby is now a top Health blog, with millions of readers coming to his site for reading health related content . He lives and continues to write non-stop in Madhya Pradesh . His first blogpost was published in 2020 . Visit him at Healthzone3.Com .

एक टिप्पणी भेजें

और नया पुराने