सिर्फ 5 दिन में पथरी से पाएं छुटकारा । PATHRI KA ILAJ - HealthZone

सिर्फ 5 दिन में पथरी से पाएं छुटकारा । PATHRI KA ILAJ


सिर्फ़ 5 दिन में पथरी से पाएं छुटकारा । PATHRI KA ILAJ


Pathri Ka ilaj
Pathri Ka ilaj


पथरी क्या है  ।  WHAT IS KIDNEY STONE IN HINDI


आज के ज़माने में पथरी की समस्या Kidney Stone  आम होती जा रही है लगभग हर घर मे पथरी का एक रोगी मिल जाता है ।
एक रिसर्च से ये बात पता चलती है की आज  लगभग 15 से 20 प्रतिशत लोगों को पथरी की समस्या उत्पन्न हो रही है । इसका एक कारण खान - पान में लापरवाही है ।
Pathri Ka Ilaj न करने के कारण लगभग 50 प्रतिशत लोगों की किडनी खराब हो जाती है ।  ये भयानक आंकड़े  बताते है की किडनी रोग में लापरवाही से जान जोखिम में नहीं डालना चाहिए और Pathri Ka Ilaj करना चाहिए ।
पेशाब के साथ निकलने वाले विभिन्न प्रकार के क्षारीय तत्व जब किसी वज़ह से बाहर नहीं निकल पाते तो यह मूत्राशय , मूत्र नलिका या गुर्दे में रूक जाते है ।
ये तत्व धीरे-धीरे इकठ्ठा होकर कंकड़ या रेत का रूप ले लेते हैं । इसे ही Kidney Stone कहा जाता है । गुर्दे की पथरी को नेफ्रोलिथियासिस (Nephrolithiasis) भी कहा जाता है । यह समय के साथ जमा होते-होते बढ़ने लगते हैं या छोटे - छोटे  कई रूप ले लेते है ।
रेत के कण से लेकर टेबल टेनिस की बाल के बराबर इसका आकार हो जाता है । अगर समय पर Pathri Ka Ilaj करा जाए तो इस बीमारी से बचा जा सकता है ।

How To Remove Pimples in Hindi  इसको भी जानिंए




विषय सूची । TABLE Of CONTENTS


• पथरी क्या है  ?  What Is Kidney Stone In Hindi

• पथरी होने के कारण ।  Causes Of Kidney Stone In Hindi

• पथरी होने के लक्षण ।  Symptoms Of Kidney Stone In Hindi

• पथरी का इलाज  ।  Kidney Stone Treatment In Hindi



पथरी होने के कारण । CAUSES OF KIDNEY STONE IN HINDI


• अधिक वज़न ।

वज़न बढ़ने से स्वास्थ समस्याएं भी बढ़ने लगती है । पथरी होने का एक कारण वज़न का अधिक होना भी होता है । इसलिए कहा जाता है कि स्वस्थ रहने के लिए वज़न पर नियंत्रण करें ।

• सर्जरी होना ।

पथरी की समस्या उन लोगों को जलदी हो सकती है जिनकी सर्जरी हुई है ख़ासतौर पर दिल का आपरेशन करवाना ।

• खानें में लापरवाही ।

खानें में लापरवाही करनें से पथरी की संभावना उत्पन्न होती है । स्टोक बनाने वाले खानें से परहेज़ करना चाहिए ।

• नमक का अधिक उपयोग ।

यदी कोई अधिक मात्रा में नमक लेता है या नमक और ग्लूकोज वाला आहार लेता है तो पथरी की संभावना बड़ जाती है । 

• पानी की कमी ।

शरीर में पानी की कमी हो जाएं तो पथरी की समस्या उत्पन्न हो सकती है । आवश्यकतानुसार पानी नही पीना पथरी की संभावना बढ़ाता है । पानी का खूब इस्तेमाल करना चाहिए ।

• थायराइड ।

थायराइड के रोगी को पथरी की समस्या हो सकती है । थायराइड पथरी की संभावना को बढ़ाता है । समय पर इसकी जांच करवानी चाहिए ।


Benefits Of Drinking water in Hindi  इसको भी जानिंए

पथरी होने के लक्षण । SYMPTOMS OF KIDNEY STONE IN HINDI 

•  उल्टियां होना ।

उल्टियां होने को हम गंभीरता से नहीं लेते पर कभी - कभी पथरी होने वाले रोगी को बार बार उल्टियां होती है इसके लिए फौरन  पथरी की जांच करवानी चाहिए । 

• बुखार होना ।

अगर बुखार होने पर दवा से फायदा नही मिल रहा है तो इसके लिए पथरी की जांच करवानी चाहिए यह Kidney Stone Symptoms हो सकते हैं

• पेशाब बार - बार होना ।

बार - बार पेशाब आना पथरी होने के लक्षण हो सकते हैं । इसलिए ऐसी अवस्था में पथरी की जांच करवानी चाहिए लापरवाही रोगी के लिए घातक हो सकती है ।

• पेशाब थोड़ा-थोड़ा होना ।

अगर किसी व्यक्ति को पेशाब पूरी तरह से नही हो रहा है थोड़ा-थोड़ा या रूक - रूक कर हो रहा है तो यह Kidney Stone Symptoms हो सकते हैं क्योंकि पथरी में पेशाब होने में रूकावट होती है। अपने चिकित्सक को दिखाएं । 

• पेशाब में दर्द ।

पेशाब करनें में दर्द होना या जलन पड़ना पथरी होने के लक्षण है । अगर पेशाब करने में बराबर दर्द हो रही है कम नहीं होता है तो अपना चेकअप कराएं और चिकित्सक को दिखाएं ।

• पेशाब में खून आना ।

पेशाब के साथ अगर ख़ून भी निकल रहा है तो हो सकता है  पथरी की वजह से निकल रहा है । अपने चिकित्सक से परामर्श करें अगर पथरी के Symptoms है तो फोरन इसका इलाज करे ।

• पीट के निचले हिस्से में दर्द ।

अगर किसी को पथरी की समस्या होती है पीट के निचले हिस्से में या फिर पेट में बहुत दर्द होता है ऐसे समय फोरन जांच करवानी चाहिए क्योंकि यह पथरी के Symptoms हो सकते है । 

Pathri Ka ilaj
Pathri Ka ilaj


पथरी का इलाज ।  KIDNEY STONES TREATMENT IN HINDI


1. कलौंजी का तेल । Nigella Seeds Oil 

पथरी के इलाज के लिए कलौंजी बहुत अच्छा और अचूक उपाय है ।
5 ग्रांम गुड़ में 5 ग्रांम कच्चा पपीता लेकर इसमें कलौंजी का तेल लगभग 5 बूंदें डालकर सुबह सवेरे नाहर मूंह खिलाएं  इससे पथरी बाहर निकल जाएगी ।
पालक और टमाटर का परहेज करें । यह उपचार दस दिंन तक करें ।
एक कप पानी गर्म करे फिर इसमें आधा चम्मच कलौंजी का तेल और दो चम्मच शहद मिलाकर रोगी को दिन में दो बार सुबह - शाम पिलाएं बहुत जल्दी पथरी निकल जाएगी ।

2 . नीम के पत्ते    Leaves Of The Neem Tree

पथरी का  इलाज नीम के पत्तों से किया जा सकता है ।
एक चम्मच नीम के पत्तों की राख ठंडे पानी से दिन में तीन बार इस्तेमाल करें कुछ दिन में मूत्राशय और गुर्दे की पथरी गल जाएगी और गल कर पैशाब के रास्ते से निकल जाएगी ।
नीम की राख बनानें के लिए नीम के पत्तों को सुखाकर एक बर्तन में लेकर जलाएं । जलने पर बर्तन का मुंह ढंक दे और 3 से  4 घंटे बाद जली हुई पत्तियों को बरतन से निकालकर  अच्छी तरह पीस लें इसी को नीम की राख कहते हैं ।

3. पैठे का रस  ।  Paitha Juice 

पैठा खाना या पैठे का रस पीना पथरी के रोगी के लिए लाभदायक होता है ।
एक ग्लास पैठे का रस निकालकर इसमेें हींग डालकर पथरी के रोगी को दिन में दो बार पिलाएं पथरी बाहर निकल जाएगी और पथरी का दर्द दूर हो जाएगा इससे मूत्र के रोग में लाभ होता है ।
पैठा मुत्राशय , किडनी और पित्त की थैली की पथरी को बाहर निकाल देता है । आपरेशन के समय पैठा खाना फायदेमंद होता है ।


pathri ka ilaj
Mehendi Leaves For Pathri


4. मेहंदी के पत्ते । Mehendi Leaves 

मेहंदी के पत्ते Kidney Stone in Hindi से छुटकारा दिलाने में बहुत कारगर है ।
पांच ग्रांम महंदी के पत्तों को लगभग आधा लीटर पानी में अच्छी तरह से उबालें और जब यह पानी लगभग आधा रह जाए तो इसको छांन लीजिये ।
छंना हुए पानी को गरमा गर्म रोगी को पिलाएं यह पानी पथरी को शरीर से बाहर निकाल देता है । इससे गुर्दे का रोग भी ठीक हो जाता है ।
इस उपाय को पांच से सात दिन तक नियमित करते रहे लाभ होगा ।

5. प्याज़ का रस ।  Onion Juice

पचास ग्रांम प्याज़ लेकर इसको अचछी तरह पीस लीजिए । फिर इसको कपड़े में लेकर निचौड़े और इसका रस निकालें ।
प्याज़ के रस को रोजाना सुबह खाली पैट रोगी को पिलाएं ये पथरी को तोड देता है और बारीक टुकड़ों में पथरी पैशाब के रास्ते से बाहर निकल जाती है ।
इससे पथरी का दर्द दूर हो जाता है और पैशाब आसानी से होंने लगता है । इस Kidney Stone Treatment in Hindi को कुछ दिन करें जरूर लाभ मिलेगा ।


Lemon Benefits in Hindi  इसको भी जानिंए

6. नींबू का रस । Lemon Juice

एक ग्लास पानी में एक नींबू निचोड़े फिर इसमें सेंधा नमक मिलाएं और रोगी को सुबह-शाम रोज़ाना पिलाएं  लगभग एक माह तक ।
यह पानी पथरी को पिघाल देता है और पथरी पिघलकर शरीर से बाहर निकल जाती है ।
अंगूर के पचास पत्तों में नींबू निचोड़े और इसको पीसकर चटनी बनाएं ।
इस चटनी के दो चम्मच हर दो घंटे बाद रोगी को खिलाएं पथरी से और पथरी के दर्द से छुटकारा मिलता है ।
नींबू में पोटेशियम साइटेट होता है जो पथरी बनने से रोकता है और बनी हुई पथरी को पिघाल देता है ।


Pathri Ka ilaj
Gooseberry For Pathri


7. आंवला चूर्ण ।  Gooseberry Pest

पिसा हुआ आंवला और मिश्री समान मात्रा में मिलाकर दो चम्मच दिन में दो बार पानी के साथ रोगी को खिलाएं पथरी टूट कर बाहर निकल जाएगी ये Kidney Stone Remedy in Hindi एक माह तक करते रहे ।
सूखे आंवले को बारीक पीस लें फिर इसे मूली पर लगाकर चबाकर खाएं । सात दिन सुबह-शाम खाली पेट इस्तेमाल करें । 
सात दिन बाद मूत्राशय की पथरी जल्दी बाहर निकल जाती है और दर्द भी दूर हो जाता है ।

8. जामुन उपयोग करें । Use Java Plum

जामुन खाने से Kidne Stones in hindi में आराम मिलता है । ये पथरी को गलाकर शरीर से बाहर निकाल देती है ।
जामुन की गुठली का चूर्ण बनाकर इसके दो चम्मच मे आधा कप दही और आधा कप पानी मिलाकर लस्सी बनाए और रोजाना दिन में तीन बार लगभग एक माह तक रोगी को खिलाएं ।
ये  लस्सी  पथरी  को पिघला  देती  है और  पिघलाकर  शरीर  से  बाहर  निकाल देती  है । 
जामुन के रस में सेंधा नमक मिलाकर रोज़ाना दिन में तीन बार इस्तेमाल करने से मूत्राशय की पथरी बाहर निकल जाती है ।
पथरी में पाया जानें वाले पोषक तत्व पेशाब में होने वाली पथरी को गलाने की क्षमता रखते हैं ।

9. पपीते की जड़  । Papaya Root 

पपीता से पथरी रोग से छुटकारा मिल सकता है ।
इसके लिए पपीते के पेड़ की जड़ को सुखाएं और इसके बारीक  टुकड़े करके अच्छी तरह पीस लें ।
इस चूर्ण में से दो चम्मच एक कप पानी में रात को भिगो कर रख दें और सुबह इसको छांन कर रोगी को पिलाएं ।
दो से तीन सप्ताह में पेशाब के साथ पथरी बाहर निकल जाएगी । और दर्द से छुटकारा मिल जाएगा ।


Pathri Ka ilaj
Apple For Pathri


10. सेब का रस ।  Apple Juice

मूत्राशय में और गुर्दे में पथरी बनती रहती है । आपरेशन से निकलवाने के बाद भी दोबारा बन जाती है ।
सेब का रस पीते रहने से पथरी बनना रूक जाता है और अगर पथरी बनी हुई है तो वह टूट कर पेशाब के साथ बाहर निकल जाती है ।
अगर कुछ दिन तक नियमित सेब खाते रहे तो शरीर से पथरी निकल जाती है । सेब पेशाब को को शुद्ध करता है और गुर्दे के दर्द को दूर करता है ।

11. आलू का उपयोग करें । Use Potato

Gurde Ke Pathri   से छुटकारा   पाने के लिए  आलू  का  उपयोग  करना  लाभदायक होता है ।
एक गुर्दे में पथरी हो या दोनों गुर्दो में पथरी हो तो केवल आलू खिलाएं और बार बार पानी पिलाते रहे इससे गुर्दे की पथरी और रेत शरीर से बहुत आसानी से बाहर निकल जाती है ।
आलू में मेगनीशियम पाया जाता जो पथरी को बनने से रोकता है और बनी हुई पथरी शरीर बाहर निकाल देता है ।

9 Impressive health benefits of watermelon  इसको भी जानिंए

12. ख़रबूज़े के छिलके । Musk melon Peels

पथरी हो और पथरी से पेट में दर्द ज्यादा हो तो खरबूजा इस्तेमाल करें बहुत जल्दी आराम मिलेगा ।
खरबूजे के छिलकों को सुखाकर पीसकर चूर्ण बना लें । इस चूर्ण में से तीन चम्मच एक ग्लास पानी में मिलाकर अच्छी तरह उबालें ।
इस पानी को छानकर इसमें आवश्यकतानुसार शक्कर मिलाकर सुबह-शाम दो बार इस्तेमाल करें ।
ये  पथरी  को  पेशाब  के  रास्ते  से   बाहर निकाल  देता  है  और  दर्द  से छुटकारा दिलाता  है । 

13. मूली का रस । Redish Juice

मूली में क्षार की क्षमता इतनी अधिक होती है कि यह पथरी को गला देती है ।
पत्तों सहित मूली का रस निकालकर एक ग्लास रस में एक नींबू का रस और 1/4 चम्मच काली मिर्च मिलाकर रोजाना  सुबह इस्तेमाल करें ।
जब तक बाजार में मूली मिले इसको इस्तेमाल करें और पत्तों सहित रस भी इस्तेमाल करते रहे पथरी से छुटकारा मिलेगा और पथरी बनना बंद हो जाएगा । मूली और इसके रस में पथरी को निकालने और  पथरी को जड़ से ख़त्म करने के गुण होते हैं ।


Pathri Ka ilaj
Basil Juice For Pathri


Tulsi Leaves Benefits in Hindi  इसको भी जानिंए

14. तुलसी का रस । Basil Juice

तुलसी गुर्दो की कार्यक्षमता को बढ़ावा देती है और पथरी को बाहर निकालती है ।
एक चम्मच तुलसी के रस में दो चम्मच शहद मिलाकर थोड़ा सा पानी लगभग तीन से चार चम्मच मिलाकर पिएं । पथरी बाहर निकल जाएगी ।
तुलसी के बीज में हिमजीरा शक्कर और दूध में मिलाकर पीने से पेशाब की नली की पथरी टूट कर और गल कर बाहर निकल जाती है ।
इस उपाय को कुछ दिन करते रहे लाभ मिलेगा ।

15. गाजर उपयोग करें । Use Carrot

गाजर खाने से पेशाब खुलकर आता है ओर आसानी से होता है ।
अगर पथरी पेशाब की नली या थेली में हो तो रोगी को रोज़ाना गाजर खाना चाहिए चाहे कच्ची गाजर खाएं या सलाद के साथ पर नियमित खाएं ।
गाजर पेशाब की रूकावट को दूर करता है जिससे पेशाब खुलकर होने लगता है ओर पेशाब के साथ पथरी घुल कर बाहर निकल जाती है ।

16. चुकंदर उपयोग करें ।   Use Sugar Beets

दो चुकंदर को लगभग पचास ग्रांम पानी में मिलाकर अच्छी तरह उबालें और उबालकर चुकंदर को मसलकर पानी में माला लें ।
पानी को छानकर हल्का गर्म पीने योग्य हो जाए तो रोगी को पिलाएं ।
इस पानी को कुछ दिन तक रोगी को पिलाते रहे पथरी टूट कर बाहर निकलने लगेगी ।
जब तक रोगी पूरी तरह अच्छा न हो जाए यह उपचार करते रहे पथरी पूरी तरह बाहर निकल जाएगी और रोगी को आराम मिल जाएगा ।

17. चौलाई का साग । Amaranth Greens

हल्का उबला हुआ चौलाई का थोड़ा - थोड़ा दिन भर  कई बार रोगी को पिलाएं ये पथरी को गलाकर बाहर निकाल देता है ।
इसके साथ ही बथुआ का साग दो ग्लास पानी में उबालकर कपड़े से छान लें और इस पानी को दिन में चार से पांच बार रोगी को पिलाएं ।
चाहें तो इसमें थोड़ा सा सेंधा नमक , थोड़ी काली मिर्च और ज़ीरा मिलाकर इस्तेमाल करें ।
कुछ हफ्तों में इन दोनों साग के इस्तेमाल से गुर्दे की पथरी निकल जाएगी और गुर्दे के सारे रोगों से मुक्ति मिलेगी ।


18. कुलथी का उपयोग करें । Use Kulathi

कुलथी को बिल्कुल साफ़ करके 100 कुलथी को लगभग देढ़ किलो पानी में भिगो दीजिए ।
सुबह इसको उबाले और जब पानी आधा हो जाए तो इसे छानकर इसमें काली मिर्च , जीरा , नमक , हल्दी मिलाकर असली घी से छौंक लगाएं ।
इसको  रोज़ाना  दिन में एक बार इस्तेमाल करें और प्यास ज्यादा लगे तो और इस्तेमाल कर सकते हैं ।
जब तक पथरी बाहर न निकल जाए इसका इस्तेमाल करते रहें इससे कोई नुक़सान नहीं होता ।
यह गुर्दे और पेशाब की पथरी को बाहर निकाल देता है और आपरेशन की जरूरत नहीं पड़ती । यह बहुत कारगर उपचार है ।
 
19. मक्का उपयोग करें । Use Corn

मक्का के भुट्टे जलाएं और इसको राख़ कर लें और एक कप पानी में दो चम्मच मक्का की राख़ अच्छी तरह मिला दें फिर इस पानी को छानकर रोगी को पिलाएं ।
ये पानी पथरी को गला कर पेशाब के साथ बाहर निकाल देता है । और पेशाब भी साफ़ कर देता है ।
मक्का के सिर के बाल 50 ग्रांम को कुलथी के पानी के साथ उबालें और इसको छांनकर पिया जाए तो पथरी निकल जाती है ।


20 . करेले का रस । Bitter Gourd Juice

करेले में फास्फोरस और मेगनीशियम पाया जाता है जो पथरी को तोड़ देता है । करेला Pathri ke dawa  के  रूप  में  काम आता  है ।
यह मूत्राशय और गुर्दे की पथरी को तोड़कर पेशाब के साथ बाहर निकाल देता है । इसके लिए करेले का जूस इस्तेमाल करें और करेले की सब्जी खाएं । 
करेले का जूस निकालें इसमें एक कप छाछ मिलाकर रोज़ाना इस्तेमाल करें जब तक पथरी न निकल जाए ।
करेला पेशाब ज्यादा लाता है और पेशाब की जलन को दूर करता है । ये पथरी को तोड़ कर पेशाब के रास्ते से बाहर निकाल देता है । 
 




कोई टिप्पणी नहीं

Blogger द्वारा संचालित.