बडे़ अनमोल हैं मूली खाने के फायदे । Benefits of Eating Radish (Muli)


Benefits of eating radish
Radish ( Muli ) 

मूली के फायदे, उपयोग और नुक़सान -Benefits of Radish , Uses & Side Effects In Hindi

जिस तरह हम सब्जियों को महत्व देते हैं और उनका उपयोग करके फायदा हासिल करते हैं इसी तरह हमें फलो का भी उपयोग करना चाहिए क्योंकि ताज़े और मौसमी फल हमारी सेहत के लिए फायदेमंद होते हैं।

मूली के बारे में अगर हम बात करें तो यह हमारे लिए बहुत फायदेमंद (Benefits of eating radish)है हम इसका उपयोग तो खूब करते हैं पर हम इसके फ़ायदे नही जानते।

हम आपको इस लेख में मूली के बारे में विस्तार से बताते हैं कि मूली हमारे लिए कितनी महत्वपूर्ण है इसके फ़ायदे (Radish benefits)हमारे लिए कितने आवश्यक है। सबसे पहले जानते हैं कि मूली क्या है और इसके फ़ायदे क्या है ?

इसको भी पढ़े - छोटी सी इलायची के पहाड़ जैसे फायदे

मूली क्या है ?  What Is Radish (Muli) 

मूली एक सब्जी है जो स्वाद में तीखी और जड़ की तरह होती है। मूली के पत्ते फल और बीज सभी बहुत उपयोगी होते हैं। इसका रंग सफेद , लाल,  बेंगनी और काला होता है।  

यह देखने में गोल लंबी और बेलन के आकार की होती है जो खाने (Muli khane ke Fayde) में मीठी और तीखे सवाद की होती है। इसको पकाकर या कच्चा सलाद के रूप में और अचार बनाकर उपयोग किया जाता है। 

इसका वैज्ञानिक का नाम रापानस सैटियस है। पूरी दुनिया में इसका उपयोग किया जाता है सबसे ज्यादा इसकी खपत और खैसी भारत में की जाती है। आइए हम आपको बताते हैं कि मूली के फायदे (Muli ke Fayde) क्या है। 

इसको भी पढ़े -  पान खाए सहत बनाएं

मूली खाने का सही समय - When To Eat Radish In Hindi

सब्जी या फल को सही समय पर खाया जाए तो इसके फायदे भी हासिल किया जा सकते हैं  मूली सर्दी के सीजन में ज्यादा आती है उस की तासीर गर्म होती है आप मूली को सही समय पर खाएंगे तो इससे स्वास्थ्य लाभ (Health benefits of radish) जरूर मिलेंगे आइए जानते हैं

• मूली को खाने का सबसे अच्छा समय दिन में खाने के साथ का होता है क्योंकि मूली की तासीर गर्म होती है और यह शरीर में गर्मी देती है

• कच्ची मूली रात में खाने से बचना चाहिए क्योंकि  रात में इसकी तासीर ठंडी हो जाती है जिससे सर्दी खांसी की शिकायत हो सकती है रात में मूली की भाजी या मूली की सब्जी खायी जा सकती है

इसको भी पढ़े - एलोवेरा के चमत्कारी फायदे


Benefits of eating radish
Radish ( Muli ) 


मूली के फ़ायदे - Radish Benefits 

आपने मूली के बारे में पढ़ा के मूली क्या होती है अब हम आपको बताते हैं मूली खाने के फ़ायदे (Mooli khane ke fayde) क्या हैं ?

1. प्रतिरक्षा प्रणाली मज़बूत करे

अपनी प्रतिरक्षा प्रणाली को मजबूत बनाने के लिए हमें नियमित रूप से मूली का सेवन करना चाहिए क्योंकि मजबूत प्रतिरक्षा प्रणाली हमें रोगों से बचाती है और स्वस्थ रखती है।

मूली में पाए जाने वाले पोषक तत्व हमारी प्रतिरक्षा प्रणाली को मजबूत बनाने में बहुत मदद करते हैं जिससे हमारी शारीरिक और मानसिक परेशानियों का समाधान होता है।

इसलिए अपने रोज़ाना के खान पान में मूली का उपयोग करना चाहिए।

2. गुर्दों को स्वस्थ करे

मूली में कई तरह के संक्रमणं से लड़ने के गुण (Mooli ke Fayde) और शक्ति होती है जो हमारे गुर्दों को संक्रमणं से बचाने में बहुत मदद करती है।

जब हम मूली का सेवन करते हैं तो यह हमारे गुर्दों से ज़हरीले पदार्थ को साफ कर देती है जिससे गुर्दे स्वस्थ रहते हैं और पेशाब सरलता से होने लगता है।

मूली का सेवन हमारे मूत्र प्रणाली को बेहतर बनाने में हमारी सहायता करती है यह एक प्रकार का मूत्रवर्द्धक है।

3. रक्तचाप को नियंत्रित करें

मूली का नियमित सेवन करने से हमारा ब्लड प्रेशर नियंत्रित रहता है क्योंकि मूली में पोटेशियम होता है।

पोटेशियम हमारे रक्त प्रवाह को को बनाए रखता है जिससे हमारा ब्लड प्रेशर normal रहता है। मूली के उपयोग से हमारा रक्त शर्करा का स्तर भी normal  रहता है।

4. कोलेस्ट्रॉल को नियंत्रित करे

मूली के नियमित सेवन करने से कोलेस्ट्रॉल के अवशोषण को कम किया जा सकता है जिससे दिल के रोगों को कम करने या रोकने में बहुत मदद मिलती है।

मूली में कुछ फ्लेवोनॉयड पाए जाते हैं जो दिल के लिए बहुत फायदेमंद होते हैं इसलिए कहा जाता है कि दिल के रोगियों को मूली का नियमित सेवन करना चाहिए।

5. पथरी का उपचार करे

मूली में क्षारता ज़्यादा होती है जिसकी वज़ह से पथरी गल जाती है। इसलिए जब तक मूली बाज़ार में उपलब्ध हो तो पथरी के रोगियों को खाते रहना चाहिए।

मूली और इसके पत्तों में पथरी निकालने के क्षमता होती है। मूली के पत्तों का एक गिलास रस (Radish juice) निकालकर उसमें एक चौथाई चम्मच काली मिर्च और एक नींबू निचोड़कर रोज़ाना सुबह पिएं इससे बहुत जल्दी पथरी गल कर निकल जाएगी और आराम मिलेगा।

6. गंध को दूर करे

मुंह की गंध या सांसों की गंध से छुटकारा पाने के लिए मूली खाएं या मूली के पत्तों ( Radish leaves) को चबाएं इससे मुंह की बदबू आना बंद हो जाती है।

मूली खाने के बाद गुड़ खाने से मुंह की बदबू या बदबू वाली डकारें आना बंद हो जाती है। गुड़ खाकर मूली के कच्चे पत्तों को खाना चाहिए।

मूली में क्षारता होने से यह मुंह में बदबू पैदा करने वाले कीटाणुओं को मार देती हैं जिससे बदबू आना बंद हो जाती है।

7. पेशाब करने में आसानी

अगर किसी को पेशाब करने में समस्या हो या कम होता हो या रूक रूक कर होता‌ हो तो मूली खाएं और मूली के पत्तों को चबाएं। इससे पेशाब में आसानी‌ हो जाती है।

आधा कप मूली का रस निकालकर दो घंटे से रोगी को पिलाने से पेशाब खुल कर आसानी से होने लगता है।

एक गिलास पानी में एक चौथाई कप मूली का रस मिलाकर इसमें आधा चम्मच मूली के बीज पीसकर मिलाएं और इसको छानकर दिन में तीन बार रोगी को पिलाएं इससे पेशाब खुलकर आसानी से होने लगेगा।

8. पीलिया में फायदेमंद

मूली खाने के फायदे (Muli khane ke Fayde) पीलिया रोग को दूर करने के लिए बहुत कारगर और असरदार दवा के रूप में काम करते हैं मूली में पाए जाने वाले पोषक तत्व पीलिया के जोखिम को कम कर देते हैं

पीलिया के रोगियों को मूली की पत्तियां नियमित खिलाना चाहिए इसके साथ ही मूली के पत्तियों का साग बनाकर रोजाना खिलाएं कुछ दिन नियमित खाने से पीलिया से छुटकारा मिल जाएगा

9. बालों को स्वस्थ बनाएं

बाल इंसान की खूबसूरती का एक महत्वपूर्ण हिस्सा है इस को मजबूर और घने और आकर्षक बनाने के लिए घरेलू उपाय के तौर पर मूली के रस का सिर में उपयोग कर सकते हैं

मूली का रस (Benefits of radish juice) निकालकर इसको अपने बालों में की जड़ों तक लगाएं और मालिश करें 15 से 20 मिनट बाद बालों को साफ पानी से धो लें हफ्ते में दो से तीन बार इस उपाय को करने से बालों का झड़ना रुक जाएगा और बाल काले, घने और मुलायम और आकर्षक हो जाएंगे

10. बवासीर को ठीक करे

बवासीर ऐसी दर्दनाक बीमारी को ठीक करने के लिए आप मूली के पत्तों की मदद ले सकते हैं  इससे बवासीर में खून आना और सूजन और दर्द होना बहुत जल्दी ठीक हो जाता है

मूली के पत्तों (Benefits of radish leaves) को पीसकर इसमें शक्कर मिलाएं और थोड़ा सा पानी मिलाकर पेस्ट बना लें फिर इसका सेवन करें और बवासीर की सूजन पर इसका लेप लगाएं कुछ ही दिनों में ही बवासीर रोग में आराम मिल जाएगा

11. त्वचा को निखारे

मूली का नियमित सेवन करने से यह त्वचा में निखार लाता है क्योंकि मूली में पानी की काफी अच्छी मात्रा होती है जो हमारी त्वचा में नमी बनाए रखती है जिससे त्वचा में कील - मुंहासे , झुर्रियां और दाग - धब्बे दूर हो जाते हैं

दही में मूली के बीज को मिलाकर इसको फेंट लीजिए और पेस्ट बना लें फिर इसको आवश्यकतानुसार अपने चेहरे पर कील - मुंहासे, दाग - धब्बे और झुर्रियों पर लगाएं कुछ दिनों में इस उपचार से  त्वचा की समस्याऔ का निदान हो जाएगा

12. वज़न कम करे

जो लोग अपने बढ़ते हुए वजन से परेशान है उसको कम करना चाहते हैं ऐसे लोगों को अपने खाने में मूली का भी नियमित उपयोग करना चाहिए मूली वजन कम करने में बहुत मदद करती है क्योंकि इसमें फाइबर की अच्छी मात्रा होती है

मूली और मूली के रस (Muli ke juice ke Fayde) का नियमित सेवन करने से यह हमारे पाचन तंत्र को सही करता है जिससे खाना हजम हो जाता है फेट  कम होता है और वह वजन कम करने में बहुत मदद मिलती  है

13. हिचकियाँ दूर करे

अगर आपको लगातार हिचकी आ रही है या रुक रुक के हिचकी आ रही है दवा खाने से फायदा नहीं हो रहा तो इसको फौरन दूर करने के लिए आप मूली के पत्तों (Mooli ke patti ke Fayde) को उपयोग करे

जब हिचकी आए तो उस वक्त मूली के पत्तों को तोड़कर साफ करके अपने मुंह में रखकर चबाएं और उसके रस को पी लें इससे आपकी हिचकी बहुत जल्दी बंद हो जाएगी और मुंह की बदबू भी दूर हो जाएगी

14. गले का दर्द ठीक करे

गले में दर्द हो रहा , सूजन हो या खराश हो तो इस रोग से बचाव करने के लिए घरेलू उपाय के तौर पर आप मूली के रस (Muli ke ras ke Fayde) का उपयोग कर सकते हैं बहुत जल्दी फायदा मिलेगा

थोड़ा सा पानी लीजिए इसमें मूली का रस और सेंधा नमक पिलाएं फिर इसको गर्म करें और हल्के गुनगुने इस पानी से गरारे करें दिन में दो-तीन बार ऐसा करने से गले में खराश, दर्द और सूजन में आराम मिल जाएगा


Benefits of eating radish
Radish Juice ( Muli Ras ) 


मूली के उपयोग - Radish Uses

मूली के फायदे हासिल करने के लिए इसको सही तरह से उपयोग करना जरूरी है मूली को हम किस तरह से उपयोग करके फायदे हासिल कर सकते हैं आइए जानते हैं

• दिन में खाने के साथ मूली को सलाद के रूप में अच्छी तरह उपयोग कर सकते हैं

• मूली के पत्तों की सब्जी या दूसरी सबजियों में मिक्स करके बनाकर भी उपयोग किया जा सकता

• मूली के पत्तों (Muli ke patti) की साग बना कर भी बहुत उपयोग किया जाता

• मूली का अचार बनाकर भी उपयोग किया जा सकता

• मूली के चिप्स बना कर भी इसका उपयोग किया जाता है

• मूली के पराठे बना कर भी काफी उपयोग किया जाता है

• मूली के पत्तों का रस निकालकर भी दवा के रूप में उपयोग किया जाता है

मूली के नुक़सान - Radish Side Effects

मूली खाने के फायदे (Benefits of eating radish) तो आपने पढ़े पर इसको खाने के बाद कुछ नुकसान भी हो सकते हैं आइए मूली खाने के नुकसान के बारे में जानते हैं

• कच्ची मूली को रात में ना खाएं इससे सर्दी खांसी गले में खराश हो सकती है

• मूली को चने के साथ नहीं खाना चाहिए इससे गले में शरीर में सूजन और दर्द की शिकायत हो सकती

• मछली के साथ मूली नहीं खाना चाहिए यह स्वास्थ्य के लिए हानिकारक है

• मूली खाने के बाद बैठना नहीं चाहिए थोड़ा सा टहलना चाहिए वरना पेट का हाजमा गड़बड़ हो सकता है

• मूली खाने के फौरन बाद दूध नहीं पीना चाहिए लगभग 2 से 3 घंटे बाद दूध का उपयोग करें अन्यथा स्वास्थ्य पर बुरा असर पड़ता है


निष्कर्ष - Conclusion

मूली के बारे में आपने विस्तार से पढ़ा और जाना की मूली में कितने पोषक तत्व मौजूद हैं और यह कितना गुणकारी है अब अपने खाने में मूली का उपयोग करें और अपनी सेहत को बेहतर बनाएं पर याद रखें अगर किसी गंभीर बीमारी से पीड़ित हैं तो मूली खाने से पहले अपने चिकित्सक से परामर्श जरूर करें आपको हमारा यह लेख पसंद आया हो तो अपने दोस्तों में इसको शेयर करें


TAGS

# Benefits of eating radish

# Benefits of radish

# Benefits of radish leaves

# Benefits of radish juice

# Muli khane ke Fayde

# Muli ke Fayde

# Radish Side effects

# Radish uses

# Health benefits of radish



HealthZone3.com

Syed Zafar Iqbal is the founder, developer, and author of HealthZone3.com . What began as a grad school hobby is now a top Health blog, with millions of readers coming to his site for reading health related content . He lives and continues to write non-stop in Madhya Pradesh . His first blogpost was published in 2020 . Visit him at Healthzone3.Com .

एक टिप्पणी भेजें

और नया पुराने